एनडीए में ही रहेंगे मांझी, सरकार में रहकर उठाते रहेंगे दलितों-गरीबों के मुद्दे


पटना
पूर्व मुख्यमंत्री और हम के राष्ट्रीय अध्यक्ष जीतन राम मांझी ने बुधवार को पार्टी की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में कहा कि एनडीए को छोड़कर जाने का कोई सवाल ही नहीं है। एनडीए के साथ हैं और आगे भी रहेंगे। गौरतलब है कि हम की राष्ट्रीय कार्यसमिति की बैठक में कुछ अहम फैसले लिए जाने को लेकर सियासी अटकलें लगाई जा रही थीं। लेकिन, मांझी ने इस पर विराम लगा दिया।

बैठक में पार्टी ने भी आम सहमति से एनडीए में रहने का फैसला लिया। हालांकि मांझी ने बैठक में यह भी कहा कि सरकार में रहकर भी सकारात्मक सोच के साथ दलित और गरीबों के मुद्दे को लेकर निवेदनपूर्वक मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के समक्ष मुद्दे उठाते रहेंगे। इस बीच कांग्रेस ने दावा किया है कि हम अध्यक्ष मांझी और वीआईपी के मुकेश सहनी एनडीए में सहज महसूस नहीं कर रहे हैं। वहीं जदयू के प्रधान महासचिव केसी त्यागी ने कहा है कि सरकार में कोई दिक्कत नहीं है। पूर्व सीएम जीतन राम मांझी और उनके लोग कांग्रेस-राजद को करारा जवाब दे रहे हैं।  

जदयू के प्रधान महासचिव केसी त्यागी ने बिहार में सरकार की स्थिरता पर किसी भी तरह के संकट को खारिज करते हुए कहा कि नीतीश सरकार अपना कार्यकाल पूरा करेगी। कहा कि बिहार की जनता ने सरकार चलाने का जनादेश एनडीए और उसके नेता नीतीश कुमार को दिया है। राजद, कांग्रेस के सत्ता लोलुप लोग तिकड़मों के जरिए जनादेश को पलटना चाहते हैं, जिसमें वे कामयाब नहीं होंगे। 

The Naradmuni Desk

The Naradmuni Desk

The Naradmuni-Credible source of investigative news stories from Central India.