विदेश में पढ़ रहे जो छात्र भारत में फंसे हैं उनके लिए विदेश मंत्रालय ने बढ़ाया मदद का हाथ 


नई दिल्ली 
भारतीय छात्र जो विदेश में पढ़ाई कर रहे लेकिन कोरोना की वजह से वह भारत में हैं और वापस पढ़ाई के लिए विदेश नहीं जा पा रहे हैं उनकी मदद के लिए विदेश मंत्रालय ने हाथ बढ़ाया है। विदेश मंत्रालय की ओर से कहा गया है कि अगर वो भारत में कोरोना की पाबंदियों की वजह से फंसे हैं तो oia-ii डिवीजन को संपर्क करें। विदेश मंत्रालय की ओर से ट्वीट करके कहा गया है कि ध्यान दें, अगर भारतीय छात्र जो विदेश में पढ़ाई कर रहे हैं और भारत में कोरोना की पाबंदियों की वजह से फंसे हैं और अन्य लोग जिनकी इसी तरह की समस्या है वो विदेश मंत्रालय के oia-ii डिवीजन को संपर्क करें। 

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अरिंदम बागची ने कहा कि जो भारतीय छात्र विदेश में पढ़ाई कर रहे हैं और भारत में फंसे हैं वो अपने ई-मेल और फोन नंबर हमे मेल कर सकते हैं। बागची ने जानकारी दी है कि ये सभी लोग अपनी जानकारी हमे इस ई-मेल आईडी पर us.oia2@mea.gov.in and so1oia2@mea.gov.in मेल कर दें। बता दें कि विदेश मं बढ़ाई कर रहे छात्र काफी मुश्किलो का सामना कर रहे हैं, अलग-अलग देशों में पढ़ाई कर रहे छात्र कोरोना की वजह से देश में ही हैं और वापस अपनी पढ़ाई को शुरू नहीं कर पा रहे हैं। फिलहाल ये छात्र ऑनलाइन क्लास के जरिए ही पढ़ाई कर रहे हैं। कुछ छात्र ऐसे भी हैं जो भारत में फंस गए हैं। रिपोर्ट के अनुसार जिन भारतीय छात्रों को कोवाक्सीन या रूस की स्पुतनिक वी वैक्सीन लग गई हैं उन्हें कहा गया है कि वह फिर से वैक्सीन लगवाएं क्योंकि इन दोनों वैक्सीन को अभी तक विश्व स्वास्थ्य संगठन और कई अंतरराष्ट्रीय संस्थानों ने मान्यता नहीं दी है।
 

The Naradmuni Desk

The Naradmuni Desk

The Naradmuni-Credible source of investigative news stories from Central India.